Manzil Lyrics – Tanzeel Khan | Mr. MNV

Manzil Lyrics in English and Hindi is Latest Hindi Song Sung by Tanzeel Khan ft. Mr. MNV. With Also Music is Given by Tanzeel Khan, Mr. MNV. While “ManzilSong lyrics Written by Tanzeel Khan, Mr. MNV and video has been directed by Vaibhav Pati.

Manzil Lyrics - Tanzeel Khan | Mr. MNV

Manzil Song Details

Song Title :Manzil
Singer (S):Tanzeel Khan & Mr. MNV
Lyrics (S) :Tanzeel Khan & Mr. MNV
Music (S):Tanzeel Khan & Mr. MNV
Music Label (©):Tanzeel Khan

Manzil Lyrics

[ Lyrics in English ]

Khush Nahi Hu Fir Bhi Kyun
Khush Dikhta Main
Khush Nahi Hu Fir Bhi Kyun
Khush Dikhta Main

Khush Nahi Hu Fir Bhi Kyun
Khush Dikhta Main
Khush Nahi Hu Fir Bhi Kyun

Manzil

Mere Chehre Ki Kala Hai
Mera Dard Yeh Chipaye
Jaise Khelta Main Shabdon Se
Koi Khel Ke Bataye

Mere Boli Mein Nahi
Mere Haathon Mein Kala Hai
Jaise Lafzon Ko Likhu
Main Koi Likh Ke Bataye

Tere Sapne Har Din
Mujhko Sataaye
Tere Sapne Har Neend Se
Mujhko Jagaaye

Teri Yaadon Mein Yeh Aankhein
Meri Nam Bhi Ho Jaaye
Aakhir Jaane Na Koi
Ab Meri Khatayein

Lagte Sahi The Tere Iraade
Baat Yeh Ab Tu
Mujhe Bata De
Chod Gayi Kyu De Ke Bahane

Aur Koi Na Hai Ab
Mere Siraane

Khush Nahi Hu Fir Bhi Kyun
Khush Dikhta Main
Khush Nahi Hu Fir Bhi Kyun
Khush Dikhta Main

Khush Nahi Hu Fir Bhi Kyun
Khush Dikhta Main
Khush Nahi Hu Fir Bhi Kyun

Khush Nahi Hu Fir Bhi Kyun
Khush Dikhta Main
Khush Nahi Hu Fir Bhi Kyun
Khush Dikhta Main

Khush Nahi Hu Fir Bhi Kyun
Khush Dikhta Main
Khush Nahi Hu Fir Bhi Kyun

Ab Bahro Khush Dikhde Saare
Eh Rooh Sach Jaandi
Ethe Paise Da Mul Penda
Kadar Na Kare Koi Jaan Di

Saare Puchde Ne Kedi Gaddi
Keemat Ki Makaan Di
Pith Piche Eh Bhaukan
Muhre Aa Ke Shanti

2017 To 21 Aaj Vi Tu Naal Hai
Ki Hoya Ki Beeti Na Mera Koi Sawal Ae
Har Manzil Har Modh Te
Main Khada Tere Naal Hain
Je Teri Ankh Ch Aansu
Ta Meri Ankh V Lal Ae

Tu Ruk Na, Hun Jhuk Na
Poore Karle Jehde Khawab Tu Dekhe
Panne Bharde Kitaab De E Aansu Leke
Fer Oh Time Vi Door Na
Tere Gaane All Over
From Bombay To Delhi To Jk
Tainu Dekhe

Tainu Crowd Saara Dekhe
Tu Khada Stage Utte
Hatha Ch Mic Leke
Tainu Dekhe

Tainu Crowd Sara Dekhe
Tu Khush Hove Enna
Te Fer Na Eh Kehde Ki

Khush Nahi Hu Fir Bhi Kyun
Khush Dikhta Main
Khush Nahi Hu Fir Bhi Kyun
Khush Dikhta Main

Khush Nahi Hu Fir Bhi Kyun
Khush Dikhta Main
Khush Nahi Hu Fir Bhi Kyun

Khush Nahi Hu Fir Bhi Kyun
Khush Dikhta Main
Khush Nahi Hu Fir Bhi Kyun
Khush Dikhta Main

Khush Nahi Hu Fir Bhi Kyun
Khush Dikhta Main
Khush Nahi Hu Fir Bhi Kyun

Manzil

2021 Lets Go!

Khatam!

[ Lyrics in Hindi ]

खुश नहीं हु फिर भी क्यों
खुश दिखता मैं
खुश नहीं हु फिर भी क्यों
खुश दिखता मैं

खुश नहीं हु फिर भी क्यों
खुश दिखता मैं
खुश नहीं हु फिर भी क्यों

मंज़िल

मेरे चेहरे की कला है
मेरा दर्द ये छिपाये
जैसे खेलता मैं शब्द से
कोई खेल के बताए

मेरे बोली में नहीं
मेरे हाथों में काला है
जैसे लफ़्ज़ों को लिखो
मैं कोई लिख के बताए

तेरे सपने हर दिन
मुझे सताय:
तेरे सपने हर नींद से
मुझे जगाये

तेरी यादों में ये आंखें
मेरी नाम भी हो जाए
आखिर जाने ना कोई
अब मेरी खातेयिन

लगते सही द तेरे इरादे
बात ये अब तू
मुझे बता दे
छोड गई क्यू दे के बहाने

और कोई ना है अबो
मेरे सिराने

खुश नहीं हु फिर भी क्यों
खुश दिखता मैं
खुश नहीं हु फिर भी क्यों
खुश दिखता मैं

खुश नहीं हु फिर भी क्यों
खुश दिखता मैं
खुश नहीं हु फिर भी क्यों

खुश नहीं हु फिर भी क्यों
खुश दिखता मैं
खुश नहीं हु फिर भी क्यों
खुश दिखता मैं

खुश नहीं हु फिर भी क्यों
खुश दिखता मैं
खुश नहीं हु फिर भी क्यों

अब बाहरो खुश दिखदे सारे
एह रूह सच जांदी
एथे पैसे दा मुल पेंडा
कदर ना करे कोई जान दी

सारे पुछदे ने केदी गद्दी
केमत की मकान दी
पीठ पिचे एह भाऊकानी
मुहरे आ के शांति

2017 से 21 आज वी तू नाल है
की होया की बेटी ना मेरा कोई सवाल ऐ
हर मंजिल हर मोद ते
मैं खड़ा तेरे नाल है
जे तेरी आंख च आंसू
ता मेरी आंख वी लाल ऐस

तू रुक ना, हुं झुक ना
पूरे करे जेहदे ख्वाब तू देखे
पन्ने भरदे किताब दे ए आंसू लेके
फेर ओह टाइम वी दूर ना
तेरे जाने ऑल ओवर
बॉम्बे से दिल्ली
तैनु देखे

तैनू क्राउड सारा देखे
तू खड़ा स्टेज उत्तर
हत्था च माइक लेके
तैनु देखे

तैनू क्राउड सारा देखे
तू खुश हो एन्ना
ते फेर ना एह कहे की

खुश नहीं हु फिर भी क्यों
खुश दिखता मैं
खुश नहीं हु फिर भी क्यों
खुश दिखता मैं

खुश नहीं हु फिर भी क्यों
खुश दिखता मैं
खुश नहीं हु फिर भी क्यों

खुश नहीं हु फिर भी क्यों
खुश दिखता मैं
खुश नहीं हु फिर भी क्यों
खुश दिखता मैं

खुश नहीं हु फिर भी क्यों
खुश दिखता मैं
खुश नहीं हु फिर भी क्यों

मंज़िल

Written By- Tanzeel Khan & Mr. MNV

If Found Any Mistake in above lyrics?, Please let us know using contact form with correct lyrics!

Manzil Music Video